UGEAC 2020 चॉइस फिल्लिंग Stopped बिहार इंजीनियरिंग कौन्सेलिनग रोका गया |

UGEAC 2020 चॉइस फिल्लिंग Stopped बिहार इंजीनियरिंग कौन्सेलिनग रोका गया :-  इलेक्शन के जरिए आप लोकतांत्रिक सरकार को तो बदल सकते हैं | परंतु दशकों से बीमार चल रहे एग्जामिनेशन कंडक्टिंग बॉडीज का क्या करें | जो मैं आगे बताने वाला हूं, वह शायद आप में से कई लोगों को डिसएप्वाइंट करने वाला है | परंतु यह बिहार है, यहां कुछ भी संभव है |

बिहार के इंजीनियरिंग कॉलेजों में एडमिशन के लिए हो रही UGEAC 2020 काउंसलिंग को बीसीईसीईबी (BCECE) ने बीच में ही रोक दिया है | यानी जिन्होंने चॉइस फिल्लिंग  कर लिया था वह अब न्लर्न वाइट हो चुका है | और इंजीनियरिंग की मेरिट लिस्ट prepare करने के लिए फिर से रजिस्ट्रेशन होगा | जाहिर सी बात है | जिन्होंने रजिस्ट्रेशन  कर लिया है उन्हें रजिस्ट्रेशन  नहीं करना है |

अब  आपके मन में सवाल उठ रहे होंगे कि आखिर ऐसा क्या हो गया कि चॉइस फिलिंग को बीच में ही रोककर फिर से नहीं मेरी लिस्ट प्रयोग करने के लिए रजिस्ट्रेशन हो रहा है तो मैं यहां पर आप सभी को बताना चाहूंगा कि साइंस एंड टेक्नोलॉजी डिपार्टमेंट ऑफ़ बिहार गवर्नमेंट डिप्लोमा इंजीनियरिंग पास कैंडिडेट को यूजी 2020 काउंसलिंग में पार्टिसिपेट करने के लिए अलाउड कर दिया है | अब जब मैं छात्र रजिस्ट्रेशन करेंगे तो मेरिट लिस्ट  चेंज होगा ही| इसीलिए चॉइस फिल्लिंग  को  रोक दिया गया | न्यू मेरिट लिस्ट आने पर कॉउंसलिंग प्रोसेस शुरू किया जाएगा |

यहां पर मैं एक बार फिर से रिपीट करना चाहूंगा की जो स्टूडेंट पहले से ही  रजिस्ट्रेशन कर चुके हैं उन्हें दोबारा रजिस्ट्रेशन करने की जरूरत नहीं है| जिन्होंने अभी तक   रजिस्ट्रेशन नहीं किया है वह 9 से 16 नवंबर 2020 के बीच बीसीसीबी की ऑफिशियल वेबसाइट पर रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं | चालान से 16 नवंबर तक जबकि ऑनलाइन माध्यम से 17 नवंबर 2020 तक फी  पेय करना है | अगर एप्लीकेशन भरने में कोई गलती हो जाए तो 18 नवंबर 2020 को आप अपना ऑनलाइन एप्लीकेशन एडिट कर सकेंगे | 19 नवंबर को यूजीसी 2020 का नया मेरिट  लिस्ट आएगा | जिसके बाद कॉउंसलिंग की घोषणा  होंगी |

मुझे पता है ये सब  एपिसोड कंपलीटली एक्साइटिंग एंड डिसएप्वाइंटिंग लेकिन आप बीसीसीबी से यही उम्मीद करते हो | 2019 में इन्होंने मेडिकल काउंसलिंग बीच में रुका था Now  ईजी इंजीनियरिंग काउंसलिंग |

जो  डिसीजन अभी हुआ है थोड़े दिन पहले भी हो सकता था इसीलिए मैं कहता हूं सूस्त बाबुओ  की जवाबदेही तय होनी चाहिए तभी ये सुधरेंगे वरना लाखों स्टूडेंट्स  की फ्यूचर अधर्म  मे लटका  देंगे |.

Leave a Comment